मेरी आवाज़ सुनो

भारत माता के चरणों में समर्पित मेरी रचनाएँ

105 Posts

427 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 14057 postid : 1330592

अति सर्वत्र वर्जयेत्

Posted On 17 May, 2017 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कोलकाता के टीपू सुल्तान मस्जिद के बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज ने मस्ज़िद के इमाम नुरुल रहमान बरकती को शाही इमाम के पद से हटाने का फैसला किया है / बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज के प्रमुख शाहजादा अनवर अली ने आज कहा कि देश विरोधी टिप्पणी को देखते हुए बोर्ड ने उन्हें इस पद से हटाने का फैसला किया है / बोर्ड का यह निर्णय कबीले तारीफ है / हालांकि पश्चिम बंगाल में समाज के हर क्षेत्र में राजनीती का अच्छा खाशा दखलंदाज़ी होता है / लेकिन फिर भी मस्जिद के इमाम का खुलेआम राजनीती में दखलंदाज़ी और उनके बेतुका बयान और फतवें उन्हें ले डूबे / बोर्ड के फैसले में सोसल मीडिया का भी जबरदस्त दबाव काम आया /
नूरुल इमाम बरकती को 1988 में बतौर इमाम नियुक्त किया गया था / प्रधानमंत्री के लाल- बत्ती कल्चर को समाप्त करने के आदेश को चुनौती देते हुए मौलाना बरकती ने कहा था कि वे अपनी कार से लाल बत्ती नहीं हटाएंगे। उन्होंने कहा था कि अंग्रेजों ने उन्हें लाल बत्ती इस्तेमाल करने की इजाजत दी है, और वे वर्तमान केन्द्र सरकार के आदेश को नहीं मानते हैं, इसके लिए अपनी कार से लाल बत्ती नहीं हटाएंगे। वे पश्चिम बंगाल के माननीया मुख्यमंत्री सुश्री ममता बनर्जी के काफी करीबी है और उन्होंने बाद में कहा था की ममता ने उन्हें लाल बत्ती हटाने को नहीं कहा है / इसके पहले भी बरकती कई विवादित वयान और फतवे जारी कर चुके है / इमाम ने एक फतवा जारी करके कहा था कि जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सिर और दाढ़ी मुंडेगा उसी 25 लाख रुपए दिए जाएगा। मौलवी का फतवा जारी करते हुए वीडियो सामने आया था । इस वीडियो में मौलवी के साथ टीएमसी सांसद इदरीस अली भी बैठे थे। इस वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि जब मौलवी ने फतवा जारी किया तो टीएमसी सांसद ने तालियां बजाईं। वीडियो में पीछे एक पोस्टर लगा हुआ है, जिस पर लिखा हुआ है, ‘ममता लाओ, मोदी हटाओ, देश बचाओ’ / इमाम, ममता के अल्पसंख्यक तुष्टिकरण के एक मोहरे भी रहे है / इमाम साहब बीजेपी के घर विरोधी है और बीजेपी और संघ के खिलाफ जहर उगलते रहते है / एक प्रेस कांफ्रेंस में मौलाना ने खुलेआम बीजेपी नेताओं को धमकी दी. उन्होंने कहा कि मुझे कांग्रेस और सीपीआई-एम से कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन अगर बीजेपी से कोई यहां आया तो उसे मार-मार कर भूसा उड़ा देंगे / वह खुल कर जिहाद की धमकी देते रहे और संघ समर्थकों के लिए उनके मुंह से गालियां निकल रही थी / उन्होंने मस्जिद के बाहर जय श्रीराम के नारे लगाने वालों को किन्नर तक कह डाला / इमाम ने एक और फतवे में कहा था कि बीजेपी के राज्य अध्यक्ष पर ‘पथराव कर बंगाल से खदेड़ दिया जाना चाहिए / अपने एक और बयान में इमाम ने आरएसएस और बीजेपी ज्वाइन करने वालों को चेतावनी भी दी थी / इमाम साहब तो अब सीधे भारत विरोधी बयान और पाकिस्तान के समर्थन में खुलेआम बोलने लगे थे / दूरदर्शन पर विभिन्न मुद्दों पर होने वाले बहसों में वे गली गलौज तक करने लगते थे / कहा जाता है की अति हर चीज की खराब होती है / इसका परिणाम उन्हें भुगतना पड़ा और आज उनकों अपने सम्मानजनक पद से हटाया गया / ट्रस्ट ने कहा है कि इमाम का काम सिर्फ नमाज़ पढना है और बरकती ने जो कहा उससे मुसलमानों को भी शर्मिंदगी महसूस हो रही है . ट्रस्ट का यह बयान बहुत महत्वपूर्ण है और बाकि ऐसे लोगों के लिए सबक भी /

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran